FUNDAMENTAL ANALYSIS क्या है ?

FUNDAMENTAL ANALYSIS को हिंदी में आधारभूत विश्लेषण या बुनियादी विश्लेषण कहा जाता है | FUNDAMENTAL ANALYSIS किसी भी कंपनी के शेयर में लम्बी अवधि के लिए निवेश का एक तरीका है |


FUNDAMENTAL ANALYSIS का अर्थ:

FUNDAMENTAL ANALYSIS क्या है
FUNDAMENTAL ANALYSIS

किसी भी कंपनी के बुनियादी कारकों का अध्ययन करने के बाद उसके शेयर की कीमत का आंकलन करना FUNDAMENTAL ANALYSIS या आधारभूत विश्लेषण कहलाता है |

आधारभूत विश्लेषण में किसी कंपनी के शेयर से जुड़े सभी तथ्यों का अध्ययन किया जाता है |

जैसे- कंपनी किस उद्योग से जुडी है यानि कंपनी का बिज़नस मोडुल क्या है,

कंपनी का मैनेजमेंट यानि कंपनी के मैनेजमेंट से जुड़े व्यक्तियों के बारे में जानकारी,

कंपनी के बिज़नस की गति,

संस्था की कुल सम्पति, कंपनी जो प्रोडक्ट बनाती है उसकी बाजार में क्या डिमांड है यानि कंपनी की बिक्री,

उद्योग की गति, कंपनी की देनदारी कितनी है ?

कंपनी की बैलेंस सीट का आकलन |

संस्था या कंपनी के PROFIT और LOSS का साल दर साल अध्ययन,

कंपनी के प्रतिद्वंदी, आदि का अध्ययन किया जाता है | इस प्रकार किसी भी स्टॉक या शेयर का बुनियादी विश्लेषण करके शेयर में निवेश किया जाता है |


FUNDAMENTAL ANALYSIS TOOLSक्या हैं ?

आधारभूत विश्लेषण (FUNDAMENTAL ANALYSIS) इस बात पर आधारित होता है कि यदि हम किसी स्टॉक में निवेश करना चाहते हैं तो हम सबसे पहले यह देखते हैं कि कंपनी आर्थिक रूप से कितनी मजबूत है और भविष्य में कंपनी के ग्रोथ की क्या संभावना है | किसी भी शेयर का बुनियादी अध्ययन करने के लिए कुछ FUNDAMENTAL ANALYSIS TOOLS निम्नलिखित इस प्रकार हैं :

1. कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट :

किसी भी शेयर में निवेश करने से पहले उस कंपनी का “वार्षिक रिपोर्ट” अवश्य पढ़ लीजिए | वार्षिक रिपोर्ट से कंपनी के सेहत का पता चलजाता है | यह FUNDAMENTAL ANALYSIS का एक अहम् टूल है | आप कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट की जानकारी कंपनी की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं |

2. वित्तीय अनुपात(FINANCIAL RATIO):

किसी भी कंपनी के वित्तीय स्वास्थ्य को मापने का यंत्र “वित्तीय अनुपात यानि फाइनेंसियल रेश्यो” होते हैं |जैसे- करंट रेश्यो, बुक वैल्यू, कर पूर्व लाभ/बिक्री रेश्यो, प्राइस टू अर्निंग रेश्यो इत्यादि |   

3. PE RATIO :

पी/ई अनुपात कंपनी के शेयर का मूल्य तथा शेयर द्वारा अर्जित आय का अनुपात होता है | यह एक महत्वपूर्ण सूचकांक है | यह दर्शाता है कि किसी शेयर को बाजार में कितना ऊँचा आँका गया है | पी/ई अनुपात की अधिक जानकारी के लिए PE RATIO क्या होता है पोस्ट अवश्य पढ़ें |

4.  EPS(EARNING PER SHARE) यानि प्रति शेयर आय:

प्रति शेयर आय का मतलब होता है प्रत्येक शेयर पर होने वाली आमदनी यानि यह प्रति शेयर पर होने वाले शुद्ध लाभ औरहानि को दर्शाता है | अधिक जानकारी के लिए इस पोस्ट को पढ़ें – ईपीएस क्या होता है-earning per share

5. BOOK VALUE :

किसी भी कंपनी या वस्तु कीवह कीमत जो बाजार में एक निश्चित समय में बेचने पर मिल सकती है BOOK VALUE कहलातीहै | अधिक जानकारी के लिए बुक वैल्यू पोस्ट अवश्य पढ़ें |

आशा करते हैं कि आपको FUNDAMENTAL ANALYSIS लेख पसंद आया होगा |अपने कमेंट निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखें |

इससे संबंधित लेख भी पढ़ें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!